ALL मध्यप्रदेश उत्तराखण्ड उत्तरप्रदेश राजस्थान छतीसगढ़ दिल्ली हरियाणा महाराष्ट्र तेलंगाना बिहार
वन अनुसंधान बेतूल अधिनस्थ
August 27, 2020 • Aankhen crime par • मध्यप्रदेश

गरीब लोगों को रोजगार मिल रहा हैखतरापुरा में 45 एकड़ में फैला पौधों की क्यारियों के कार्य तैयार जिनको पौधे ले जाना था बो लोग गये 4,50000, पौधों को ग्राम पंचायत स्तर पर एवं अन्य लोगों को दिए गए बाकी बचे हुए पौधों का कार्य लगभग 1 माह से दूसरी जगह सिप्फिटिंग का काम चल रहा है कुछ जाम के पौधे पेड़ पौधे बड़े हो गए हैं जिनकी कटाई चटाई करके दूसरी जगह उन्हें भी शिफ्ट किया जा रहा है। ऐसी जिले की बेमिसाल नर्सरी है जिसमें पौधों की क्यारियों के द्वारा उनका पूर्ण विकास करके लोगों को दिए जा रहे हैं। क्यारी बहुत अच्छी तरह से बनी हुई है। वहां पर कार्य करने वाले ने बताया कि यहां पर सस्ती दर पर पौधे उपलब्ध रहते हैं। आम के जामुन के पौधों की दर ₹12 है एवं आंवला के पौधों की दर भी ₹12 हैं, वृक्ष है तो जीवन है वृक्ष है तो कल है वृक्ष नहीं रहेंगे तो हम जिएंगे क्या हमको आक्सीजन कैसे मिलेगी। ऐसी नर्सरी जिले में और जगह भी होना चाहिए जिससे लोगों को ग्रामीण अंचलों में रोजगार मिल सके और हमारी हरी-भरी पृथ्वी हो सके।
मनमोहन यादव एसीपी न्यूज़