ALL मध्यप्रदेश उत्तराखंड उत्तरप्रदेश गुजरात,राजस्थान छतीसगढ़,उड़ीसा दिल्ली हरियाणा,पंजाब महाराष्ट्र पंजाब,जम्मू कशमीर बिहार,झारखंड
स्वरोजगार की वजह से ही भारत आर्थिक महाशक्ति था - केशव दुबौलिया,
October 3, 2020 • Aankhen crime par • मध्यप्रदेश

होशंगाबाद- स्वरोजगार की वजह से ही भारत आर्थिक महाशक्ति था - केशव दुबौलिया,
स्वदेशी जागरण मंच के संस्थापक राष्ट्रऋषि दत्तोपंत ठेंगड़ी के जन्मशताब्दी वर्ष के अवसर पर आयोजित अर्थ एवं रोजगार सृजक सम्मान समारोह में पिपरिया क्षेत्र के रोजगार सृजको का सम्मान किया गया । कोरोना महामारी के दृष्टिगत इस कार्यक्रम को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से किया गया । 
कार्यक्रम के अध्यक्ष के रूप में  नवनीत नागपाल  जुड़े और कार्यक्रम के मुख्य वक्ता‌ के रूप में स्वदेशी जागरण मंच मध्य भारत के प्रांत संगठन मंत्री केशव दुबौलिया का मार्गदर्शन प्राप्त हुआ । 
कार्यक्रम का संचालन  स्वदेशी जागरण मंच  जिला संयोजक विशाल गोलानी ने किया । इस कार्यक्रम का मूल उद्देश्य था उन लोगों को सम्मानित करना जो बड़े स्तर पर लोगों को रोजगार दे रहे हैं अथवा स्वरोजगार की शिक्षा दे रहे हैं ।
सम्मानित होने वालों में  राकेश भट्टर, गुरदीप सिंह मल्होत्रा, सलिल समैया, सुनील गुप्ता,शैलेन्द्र पालीवाल, सोमू कटकवार, विवेक भट्टर, रिंकू  भट्टर, आनंद व्यास, निखिल साहू, अमित व्यास रहे । कार्यक्रम के मुख्य वक्ता प्रान्त संगठन मंत्री केशव दुबौलिया ने कहा कि भारत विश्व की आर्थिक शक्ति हुआ करता जिसका मूल कारण था स्वरोजगार से आत्मनिर्भर होना । कोरोना के विषय पर उन्होंने कहा कि इस महामारी के पूर्व विज्ञान को घमंड था कि उसके बिना कुछ नही हो सकता लेकिन उसका ये घमंड अब टूट चुका है । अब पुनः लोग पुराने क्रियाकलापों को और आयुर्वेद को अपना रहे हैं ,कोरोना दवाई के रूप में विश्व के सभी अस्पतालों में आयुर्वेदिक काढ़ा दिया जा रहा है। स्वदेशी एवं विदेशी वस्तुओं में फर्क करते हुए उन्होंने कहा कि हम छोटी छोटी वस्तुए तो स्वदेशी लेते हैं लेकिन कार विदेशी ले ली तो हमारी पूरी मेहनत पर पानी फिर जाएगा । हमे स्वदेशी को पूर्ण रूप से अपनाना होगा तभी हम भारत को मजबूत कर पाएंगे । 
कार्यक्रम के नवनीत नागपाल ने अपने संबोधन में सर्वप्रथम सम्मानित होने वालों को एवं आयोजक स्वदेशी जागरण मंच को ऐसे आयोजन के लिए बधाई दी । तत्पश्चात उन्होंने बताया कि भारत मे बहुत व्यापक स्तर पर चीन के सामान का उपयोग होता है , हमे राष्ट्रवाद का परिचय देते हुए चीनी वस्तुए न खरीदकर भारतीय वस्तुए ही खरीदनी चाहिए । 
जिला संयोजक विशाल गोलानी ने अंत मे सभी का आभार मानते हुए एवं सभी को धन्यवाद देते हुए ये संदेश दिया कि आसपास बनने वाली वस्तुओं का क्रय करें और उसका प्रचार करें और  विदेशी नही सिर्फ स्वदेशी अपनाए ।
इस अवसर पर चैनसिंह पटेल, अरुणा जोशी के अलावा 
स्वदेशी जागरण मंच के 
डॉ योगेश मोहन सेठा, ऋषिकांत पटवा,सत्या चौहान,योगी अग्रवाल, रामगोपाल साहू, संदीप साहू,वकील रितेश विश्वकर्मा,संजय शर्मा,इंद्रमोहन दुबे,अजित राजपूत,प्रकाश आहूजा, टोनी दोहरे,मनोहर सांगा,दिवाकर शर्मा ,कालीचरण शर्मा ,जीवन दुबे उपस्तिथ रहे। प्रदीप गुप्ता की रिपोर्ट