ALL मध्यप्रदेश उत्तराखण्ड उत्तरप्रदेश राजस्थान छतीसगढ़ दिल्ली हरियाणा महाराष्ट्र तेलंगाना बिहार
सिख्खों के पवित्र धाम हेमकुण्ड साहिब की यात्रा व्यवस्थाओं को लेकर जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया
September 1, 2020 • Aankhen crime par • उत्तराखण्ड

चमोली उत्तराखंड
सिख्खों के पवित्र धाम हेमकुण्ड साहिब की यात्रा व्यवस्थाओं को लेकर जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया ने सोमवार को क्लेक्ट्रेट सभागार में यात्रा से जुडे सभी अधिकारियों की बैठक लेते हुए     रिपोर्ट।    केशर सिंह नेगी व्यवस्थाओं को तत्काल  सुचारू करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि यात्रा व्यवस्थाओं से जुडे़ कार्यो में किसी प्रकार की शिथिलता बर्दाश्त नही की जाएगी। पवित्र तीर्थस्थल हेमकुंड साहिब के कपाट 4 सिंतबर को सुबह 10ः00 बजे श्रद्वालुओं के लिए खोले जाएंगे। यात्रा लगभग एक महीने और 5 दिनों तक चलेगी।

जिलाधिकारी ने कहा कि कोरोना महामारी के कारण इस बार हेमकुण्ड साहिब की यात्रा पर आने वाले प्रत्येक श्रद्वालु को 72 घंटे पहले कोविड का पीसीआर टेस्ट कराना अनिवार्य होगा। ट्रू नाॅट और एन्टिजन टेस्ट की रिपोर्ट किसी भी दशा मान्य नही होगी। पीसीआर टेस्ट की नेगेटिव रिपोर्ट वाले श्रद्वालुओं को ही यात्रा की इजाजत रहेगी और एक दिन में अधिकतम 200 श्रद्वालुओं को ही अनुमति दी जाएगी। इस बार यात्रा मार्ग पर घोडे-खच्चर की व्यवस्था न होने के कारण उन्होंने गुरूद्वारा प्रबंधक को बाहर से आने वाले उम्र दराज श्रद्वालुओं को यात्रा पर न आने की सलाह अवश्य देने को कहा ताकि यात्रा के दौरान कोई समस्या न आए। यात्रा के दौरान गुरूद्वारों में शारीरिक दूरी, मास्क पहनना एवं कोविड के सभी नियमों का पालन करना भी अनिवार्य रहेगा। जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक ने गुरूद्वारा प्रबंधन समिति को इस बार यात्रा की गाइड लाईन का व्यापक प्रचार प्रसार करने पर भी जोर दिया। ताकि जानकारी के अभाव में किसी को भी कोई परेशानी न रहे।

हेमकुण्ड की सुरक्षित व सुगम यात्रा के लिए जिलाधिकारी ने संबधित विभागों को यात्रामार्ग पर सभी व्यवस्थाओं को तत्काल बहाल करने निर्देश दिए। लोक निर्माण विभाग को पैदल यात्रा मार्ग पर डेंजर जोन एवं फिसलन वाले जगहों को ठीक कराने को कहा। विद्युत एवं पेयजल विभाग को यात्रा पढाव व यात्रा मार्ग में विद्युत एवं पेयजल व्यवस्था को सुचारू करने के निर्देश दिए। कहा कि यात्रामार्ग में पेयजल लाईनों को दुरूस्त कर सभी स्टैण्ड पोस्ट में पेयजल आपूर्ति सुचारू रखने हेतु जरूरत के हिसाब से फीटरोें की तैनाती भी सुनिश्चित की जाए। सुलभ शौचालयों को चालू करने, घांघरिया व हेमुकण्ड के पैदल मार्ग पर अस्थाई शौचालय स्थापित करने के साथ-साथ शौचालयों में पानी की पर्याप्त व्यवस्था व सफाई कार्मिकों की तैनाती करने के निर्देश दिए। चिकित्सा सुविधा हेतु घांघरिया में चिकित्सक एवं गोविन्द घाट में फार्मेसिस्ट की तैनाती करते हुए दवाईयों का पर्याप्त स्टाॅक रखने के निर्देश दिए। गुरूद्वारा प्रबन्धन समिति, पर्यटन तथा जीएमवीएन को गोविन्द घाट गुरूद्वारा सहित घांघरिया में पर्याप्त आवासीय व्यवस्था सुनिश्चित करने को कहा। पेटी डीलर व पूर्ति निरीक्षक को डीजल, पेट्रोल व खाद्यान्न का समुचित भण्डारण रखने को कहा गया। पुलिस विभाग को शांति व सुरक्षा व्यवस्था के लिए गोविन्द घाट, पुलना, भ्यूडांर, घघरिया एवं हेमकुण्ड में पर्याप्त संख्या में पुलिस बल एवं एसडीआरएफ तैनात रखने के निर्देश दिए। कहा कि हेमुकण्ड में संचार सुविधा के लिए पुलिस को सेटलाइट फोन भी उपलब्ध कराया जाएगा।

इस दौरान बताया गया कि यात्रा मार्ग पर बर्फ पिघल चुकी है। पैदल मार्ग पर डेंजर स्थानों को ठीक किया जा रहा है। गोविन्द घाट से पुलना तक सड़क सुचारू है। यात्रा मार्ग पर विद्युत एवं पेयजल की आपूर्ति सुचारू कर ली गई है।