ALL मध्यप्रदेश उत्तराखण्ड उत्तरप्रदेश राजस्थान छतीसगढ़ दिल्ली हरियाणा महाराष्ट्र तेलंगाना बिहार
संकट की घड़ी मैं किसानों के साथ उपसंचालक कृषि होशंगाबाद जितेंद्र सिंह
August 27, 2020 • Aankhen crime par • मध्यप्रदेश

संकट की घड़ी मैं किसानों के साथ उपसंचालक कृषि होशंगाबाद जितेंद्र सिंह
होशंगाबाद अति वर्षा और कीट प्रकोप में जिले में सोयाबीन की हुए नुकसान से जिला के किसान संकट में है किसान खेतों में फसल की बर्बादी को देखकर अपनी किस्मत पर रो रहे हैं बता दें कि पिछले 4 सालों में सोयाबीन फसल से किसानों को घाटा ही हुआ है शासन-प्रशासन अभी तक सोयाबीन का विकल्प नहीं ढूंढ पाया हालात यह है कि मूंग उड़द मक्का जैसी फसलों की अति वर्षा व कीट से खराब हो रही है 
कृषि विभाग और अनुसंधान केंद्र के वैज्ञानिक सक्रिय हुए सोयाबीन फसल प्रभावित इलाकों का दौरा  कृषि विभाग के अधिकारी जितेंद्र सिंह उप संचालक कृषि द्वारा बताया गया कि जिला स्तरीय फसल निगरानी डायग्नोस्टिक टीम द्वारा जिले के तहसील डोलारिया एवं सिवनी मालवा के ग्राम रतवाडा बुधवारा चौथलाए गुंडीखरार,आगरा खुर्द, झिल्लाय कोटलाखेड़ी, खपरिया बील खेड़ा, रमपुरा, तोरनिया रूपादेह मुड़िया खेड़ी जमुनिया जाट गुराडिया आदि ग्रामों में फसलों का निरीक्षण किया गया निरीक्षण दल द्वारा  किसानों से चर्चा कर उन्हें आवश्यक तकनीकी सलाह दी गई निरीक्षण दल में जोनल कृषि अनुसंधान केंद्र पवारखेड़ा के वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ राम चौधरी डॉक्टर के. के.मिश्रा डॉ धनंजय कटहल और उप संचालक कृषि जितेंद्र सिंह जी उपेंद्र शुक्ला सहायक संचालक योगेंद्र बेड़ा  विभाग कृषि आदिकारी राजीव यादव वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी संजय पाठक ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी एचएस शामिल रहे। होशंगाबाद द्वारा पहले ही लोगों को टीम बनाकर जो क्षेत्र हैं जहां किसानों की फसल मक्का आडी  हो गई मूंग वगैरह का कीड़ा लग गया उसके लिए टीम बनाकर उनको भेजा जा रहा और किसानों  की समस्या को तुरंत हल किया जा रहा है।