ALL मध्यप्रदेश उत्तराखण्ड उत्तरप्रदेश राजस्थान छतीसगढ़ दिल्ली हरियाणा महाराष्ट्र तेलंगाना बिहार
सांसद की नाकाम कोशिश के कारण नहीं मिल पा रहा हैं पारस्परिक स्थानांतरण का लाभ
August 16, 2020 • Aankhen crime par • मध्यप्रदेश

होशंगाबाद- सांसद की नाकाम कोशिश के कारण नहीं मिल पा रहा हैं पारस्परिक स्थानांतरण का लाभ
यह कहना है मजदूर संघ के कार्यकारी अध्यक्ष महेश कुमार वर्मा का उन्होंने बताया कि माह नवम्बर -19 में रेल समिति सदस्य सांसद  को रेल प्रशासन झांसी से रेल प्रशासन इटारसी में पारस्परिक स्थानांतरण के लिए सर्किट हाऊस  में साक्षात्कार कर प्रार्थना आवेदनपत्र दिया था परंतु बडे ही दुख का विषय हैं कि रेल समिति सदस्य होने के बाबजूद केन्द्र में भारतीय जनता पार्टी की सरकार होने के बाद भी सांसद पारस्परिक स्थानांतरण के मामले में नाकाम क्यों हैं क्या यह मामूली काम भी सांसद की ख्याति से बडा हैं, वर्मा ने आगे बताया कि जब सांसद कांग्रेस पार्टी में थे केन्द्र में कांग्रेस की सरकार थी फिर भारतीय जनता पार्टी में आने के बाद तक निरंतर स्वंय के अनुरोध पर स्थानांतरण, पारस्परिक स्थानांतरण को लेकर कई प्रार्थना आवेदनपत्र झांसी रेल प्रशासन से इटारसी के लिए दिये गये परंतु कोरे आश्वासन के सिवा आज तक कुछ नहीं मिला सांसद ने तो कांग्रेस पार्टी से भारतीय जनता पार्टी में अपना स्थानांतरण कर लिया हैं परंतु रेल कर्मचारी आज तक स्थानांतरण के लाभ से सांसद  की नाकामी के कारण वंचित हैं,जब चुनाव का समय आता हैं तो सांसद  पूरे परिवार की पहचान वोट बैंक की खातिर बता देते हैं कोई भी काम हो करने का आश्वासन देते हैं जब काम पडता हैं तो पहचानने के लिए परिचय देना पडता हैं और जो मोबाइल नंबर, वाटसअप नंबर सांसद के द्वारा दिया जाता है चुनाव जीतने के बाद यह नंबर काम करना बंद कर देते हैं, वर्मा हार्ट, वीपी, डिपरेशन, के मरीज हैं उनकी नौकरी रेल प्रशासन झांसी में हैं परंतु उनका स्थाई निवास होशंगाबाद में हैं उत्तर मध्य रेल डिवीजन झांसी के आपरेटिंग/टीआरओ विभाग में  वर्मा पदस्थ थे किंतु माह मार्च - 19 में रेल प्रशासन के द्वारा विधुत सामान्य विभाग में सरप्लस कर्मचारी की श्रेणी में आने से समायोजन कर दिया हैं समायोजन के बाद माह अप्रैल 19 से माह जून- 19 तक मासिक वेतनो का भुगतान तो किया गया लेकिन नवीन पद पर पदस्थापना और पारस्परिक स्थानांतरण की कार्यवाही से रेल परशासन झांसी ने आज तक वंचित रखा हैं सांसद को सारी वस्तुस्थिति से प्रार्थना आवेदनपत्रों के माध्यम से अवगत कराने के बाद भी सहानुभूतिपूर्ण कार्यवाही नही की गई कर्मचारी अति गंभीर बीमारियों से पीडित है इसलिए झांसी से इटारसी के लिए अपनी बीमारी पारिवारिक जिम्मेदारियों के कारण निरंतर स्थानांतरण के लिए प्रयासरत हैं सांसद से बहुत उम्मीद थी कि उनके प्रयास से स्थानांतरण का लाभ मिल जायेगा परंतु अफसोस उनकी नाकाम कोशिश और उदासीनता पूर्ण कार्यवाही के कारण आज तक स्थानांतरण का लाभ नहीं मिल पाया हैं सांसद और रेल समिति सदस्य से अभी भी प्रार्थना व निवेदन हैं की रेल परशासन झांसी से रेल प्रशासन इटारसी में पारस्परिक स्थानांतरण व माह जुलाई - 19 से निरंतर मासिक वेतनों के भुगतान रेल मंत्री महोदय जी के संग्यान में लाकर रेल मंत्रालय के माध्यम से अपने पूर्ण अधिकारों का उपयोग करते हुये कर्मचारी आवेदक के पक्ष में उचित कार्यवाही करने की करें।                            प्रदीप गुप्ता की रिपोर्ट