ALL मध्यप्रदेश उत्तराखण्ड उत्तरप्रदेश राजस्थान छतीसगढ़ दिल्ली हरियाणा महाराष्ट्र तेलंगाना बिहार
नक्शे दुरूस्त नही होने से किसानो के सीमांकन कायॅ अटके
July 17, 2020 • Aankhen crime par • मध्यप्रदेश

नक्शे दुरूस्त नही होने से किसानो के सीमांकन कायॅ अटके 
मसनगांव -राजस्व विभाग मे जमीनो के नक्शे दुरूस्त नही होने से खेतो और जमीनो के सीमाकंन कायॅ अटके हुए है विभाग की लापरवाही के कारण चालु सीट खराब होने से नक्शे अंकीत नही हो रहे वही जिन जमीनो का कुछ भाग विक गया है उसे भी काटने की जहमत नही उठाई गई है जिससे कई खेत तथा खलिहान के मालिको को उनकी भूमि का वास्तविक नक्शा ही नही मिल सका। जिले मे नहर आने के पश्चात खेतो के  नक्शो का दुरूस्तीकरण किया गया था जिनमे कई खामिया वनी हुई है।नक्शा वनाने वालो ने मन माफिक नक्शे वनाकर  जमीनो को वंदोवस्त सीट पर काट दिया जिससे  मौके पर किसान की जमीन कहीं कम तो कहीं ज्यादा बनी हुई है जिसे दुरुस्त कराने के लिए किसान तहसील कायॅलय के चक्कर काटने को मजबूर रहे है जंहा आर आई और पटवारी द्वारा लाॅकडाउन का वहाना वनाकर काम को टाला जा रहा है।एक और जंहा पटवारियो के पास जो नक्शे की सीट है वह खराब हो चुकी है वही अधिकांश जमीनों के नक्शे कंप्यूटर पर चढ़े हुए नहीं है  जिससे आनलाईन नक्शे निकालने पर पुरे रकबे का एक ही नक्शा वना हुआ रहता है जबकी मौके पर उस जमीन के कई हिस्से होकर वह वंट चुकी है। नसों में खामियों की वजह से कई किसानों के सीमांकन कार्य समय पर पूरे नहीं हो रहे हैं इससे किसानों को नक्शे दुरुस्त कराने तथा जमीन का सीमांकन कराने के लिए अधिकारियों के चक्कर काटना पड़ रहा है ग्राम में ही कई खेत कैसे हैं जिनका रकवा ऋण पुस्तिका में रजिस्ट्री के आधार पर दर्ज है लेकिन मौके पर जमीन कम तो कहीं ज्यादा है जिससे किसानों को अपने खेतों की सही स्थिति का ज्ञान नहीं होने से किसान सीमांकन कराने का आवेदन दे रहे हैं परंतु नक्शा दुरुस्त नहीं होने से सीमांकन कार्य नहीं हो पा रहे हैं किसानों ने जिला प्रशासन से मांग की है कि सभी ग्रामो मे चांदे मिनारे लगाकर  खेतो के नक्शे दुरुस्त कर जमीनों का सही सीमांकन किया जाए।