ALL मध्यप्रदेश उत्तराखण्ड उत्तरप्रदेश राजस्थान छतीसगढ़ दिल्ली हरियाणा महाराष्ट्र तेलंगाना बिहार
में सूखने लगी सोयाबीन फसल का सर्वे कराकर उचित सहायता राशि की मांग
August 25, 2020 • Aankhen crime par • मध्यप्रदेश

में सूखने लगी सोयाबीन फसल का सर्वे कराकर उचित सहायता राशि की मांग


. खिरकिया तहसील अंतर्गत ग्रामों में के सैकड़ों एकड़ रकबे में हरी-भरी और फलियों से लदी सोयाबीन फसल अचानक बीमारी से ग्रसित होकर सूखने लगी है। इससे किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें आ गई हैं। लगातार बारिश के बाद रविवार को धूप की खिली तो किसान फसल के हाल जानने खेतों पर पहुंचे, जब फसल सूखी दिखी। सोयाबीन की फसल मुरझा गई है। सोयाबीन की 9560 सहित अन्य किस्म इस रोग से सबसे ज्यादा ग्रसित है। मंगलवार को एसडीएम  श्यामेंद्र जयसवाल के नाम ग्राम चौकड़ी लोधा खेड़ी के  किसानों ने ज्ञापन सौंपा है  और बताया कि शीघ्र ही सोयाबीन फसल खराबी का सर्वे कराकर सहायता राशि प्रदान करें व चौकड़ी सोसाइटी द्वारा कुछ किसानों का चना खरीदा गया था उत्सव उसका भुगतान भी अभी तक नहीं किया गया उसका भुगतान शीघ्र करने की बात कही है इस दौरान संतोष बेनीवाल  राजू बावल राम जीवन गोर ओमप्रकाश बिश्नोई  भरत राम बिश्नोई अशोक सारण सतीश बेनीवाल सतीश गौर विजय पांडे सुनील सारण आदि ने बताया कि हजारों रुपए खर्च कर फसल तैयार की जा रही थी, लेकिन एक के बाद एक बीमारियां आने से फसल चौपट होते नजर आ रही है। सोयाबीन फसल में लगी फली अपने आप गिर रही हैं। वहीं बारिश के दौरान तेज हवा चलने से मक्का फसल खेतों में बिछ गई है। इससे भी किसानों को नुकसान का अंदेशा है।
कहीं पीला मोजक से गिर रही फलियां, कहीं अचानक सूख रही फसल
 खेतों में फसल पीली पड़कर फलियां टूटकर गिर रही हैं। अचानक एक-दो दिन में फसल सूखकर खराब हो रही है।  सूख रहे हैं। सोयाबीन पीली हो रही है।   लगी सोयाबीन दो दिनों से अचानक सूखने लगी है।
 
- हरदा से भगवान दास सेन की रिपोर्ट