ALL मध्यप्रदेश उत्तराखण्ड उत्तरप्रदेश राजस्थान छतीसगढ़ दिल्ली हरियाणा महाराष्ट्र तेलंगाना बिहार
मीडिया क्लब से चर्चा करते हुए जिला पंजीयक स्टांप ड्यूटी ने कहा
July 17, 2020 • Aankhen crime par • मध्यप्रदेश

होशंगाबाद- मीडिया क्लब से चर्चा करते हुए जिला पंजीयक स्टांप ड्यूटी ने कहा- जिले को वर्ष 2020 - 21 में स्टांप ड्यूटी राजस्व से 9 करोड़ कम मिले, कोरोना संक्रमण काल के दौरान प्रॉपर्टी खरीदने बेचने का  कारोबार मंदा है, गत वर्ष अप्रैल से लेकर जून तक जितना राजस्व शासन को प्राप्त हुआ था उसकी तुलना में इस वर्ष 2020 - 21 में 9 करोड़ रुपए कम प्राप्त हुआ,
जिला पंजीयक रमेश कुंभारे ने नर्मदा पुरम मीडिया क्लब से चर्चा करते हुए कहा कि वर्ष 2018-19 में होशंगाबाद जिले से स्टांप ड्यूटी राजस्व के रूप में शासन को ₹99करोड़ प्राप्त हुए थे, वर्ष 2019-20 में 87करोड़ रुपये राजस्व प्राप्त हुआ था, उन्होंने बताया वर्ष 2020-21 में राजस्व कम रहने की संभावना है, कोरोना संक्रमण काल में जमीन मकान जैसी संपत्तियां कम खरीदी जा रही हैं, संपत्ति रजिस्ट्री की दरों को लेकर कुंभारे ने बताया शहरी क्षेत्र में सेवा कर सहित 12% तथा ग्रामीण क्षेत्रों में सेवा कर सहित 9% पंजीयक शुल्क निर्धारित है, जिला पंजीयक ने बताया रजिस्ट्री कराने वाले की जिम्मेदारी होती है कि वह जिस प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री करा रहा है वह उसी के स्वामित्व की है यदि वह फर्जीवाड़ा करता है तो उसके लिए वह खुद स्वयं जिम्मेदार होता है, विभाग का काम राजस्व लेकर प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री करना है, क्रेता-विक्रेता द्वारा प्रस्तुत दस्तावेज के आधार पर रजिस्ट्री की जाती है, विभाग का कोई भी व्यक्ति प्रॉपर्टी स्थल पर जाकर निरीक्षण नहीं करता है, प्रस्तुत दस्तावेज को सही मानकर नियम अनुसार शुल्क जमा करा कर प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री कर दी जाती है। प्रदीप गुप्ता की रिपोर्ट