ALL मध्यप्रदेश उत्तराखण्ड उत्तरप्रदेश राजस्थान छतीसगढ़ दिल्ली हरियाणा महाराष्ट्र तेलंगाना बिहार
कोविड-19 के दिशा निर्देशों की अक्षरशः पालना सुनिश्चित कराएं
June 30, 2020 • Aankhen crime par • राजस्थान

कार्यो की क्रियान्विति एवं सख्ती से पालना हेतु अधिकारियों को सौंपे दायित्व 

गिड़ा बाड़मेर से वागाराम बोस की रिपोर्ट 

 बाडमेर, 30 जून। कोविड-19 के प्रोटोकॉल की सख्ती से पालना के साथ अधिकारियों को उन्हें सौंपे गये कार्यो की क्रियान्विति एवं दिशा निर्देशों की अक्षरशः पालना सुनिश्चित करवाने के निर्देश दिए गये है।
 जिला कलक्टर विश्राम मीणा ने बताया कि वर्तमान में जिले में अनलॉक 1, 2 के दौरान शिथिलन प्रदान किये जाने के पश्चात् प्रायः यह देखा गया है कि लोगों द्वारा कोविड-19 से बचाव हेतु राज्य सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देशों की पालना करने में शिथिलता बरती जा रही है। लोगों द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान नहीं रखा जा रहा है एवं न ही मास्क का प्रयोग किया जा रहा है जिसके कारण जिले में कोविड-19 के संक्रमितों की संख्या में अनानक वृद्धि हो रही है। कई स्थानों पर बाजार देर रात तक खुले रहते है एवं लोगों की रेस्टोरेन्टों एवं अन्य दुकानों में बिना रोक-टोक आवाजाही बढ़ गई है। उन्होने बताया कि बाड़मेर एवं बालोतरा शहर में सार्वजनिक स्थानों एवं मेरिज गार्डनों आदि पर आयोजित होने वाले समारोह में अत्यधिक भीड़ जमा हो रही है जो कोविड-19 की रोकथाम हेतु जारी निर्देशों का स्पष्ट उल्लंघन है। इसी प्रकार कृषि उपज मण्डियों में भी कोविड-19 की गाइडलाईन की पूर्ण पालना नहीं की जा रही है, लोग बिना मास्क लगाये आ-जा रहे है। निजी बसों एवं अन्य आवागमन के साधनों मे भी ओवरलोड यात्री भरे जा रहे है। कोविड जॉच सेन्टर में चिकित्सा स्टाफ नियमित रूप से उपस्थित नहीं मिलते एवं कोविड केयर सेन्टर में स्वच्छता तथा सफाई व्यवस्था समुचित नहीं होने की भी प्रायः शिकायत प्राप्त हो रही है।
 जिला कलक्टर मीणा ने एक आदेश जारी कर उपरोक्त स्थिति के मद्देनजर कोविड-19 के प्रोटोकॉल की पालना सख्ती से करवाये एवं कार्यो की क्रियान्विति हेतु अधिकारियों को दायित्व सौपें है। जारी आदेशानुसार संबंधित उपखण्ड अधिकारी, उप अधीक्षक पुलिस, तहसीलदार, थानाधिकारी प्रतिदिन प्रातः 10 बजे एवं शाम 8 बजे नियमित रूप से बाजारों का भ्रमण कर दुकानदार, रेस्टारेंट मालिकों एवं अन्य व्यक्तियों द्वारा कोविड-19 के प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने पर उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही करते हुए जुर्माना वसूल कर उन्हें पाबन्द करेंगे। इसी प्रकार प्रमुख चिकित्सा अधिकारी बाडमेर बाडमेर शहर में कोविड-19 जांच केन्द्र पर चिकित्सा स्टाफ की उपलब्धता आवश्यक रूप से बनी रहे यह सुनिश्चित करेंगे। बालोतरा में कोविड-19 जांच केन्द्र पर चिकित्सा स्टाफ की उपलब्धता आवश्यक रूप से बनी रहे यह सुनिश्चित करने का दायित्व मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी बाडमेर का होगा। साथ ही जिले में किसी व्यक्ति के कोरोना पोजिटिव पाये जाने पर उसकी हिस्ट्री ज्ञात कर उसके सम्पर्क में आये समस्त लोगों की जांचे तत्परता से एवं समय पर करवाएंगे।
 आयुक्त नगर परिषद बाडमेर एवं बालोतरा तथा ग्रामीण क्षेत्रों में संबंधित विकास अधिकारी का दायित्व होगा कि उनके क्षेत्र में सार्वजनिक स्थानों एवं मेरिज गार्डन में आयोजित होने वाले किसी भी समारोह में कोविड-19 के प्रोटोकॉल अनुसार निर्धारित संख्या से ज्यादा भीड़ जमा नहीं हो एवं गाईड लाइन की पालना सुनिश्चित करवाएंगे। साथ ही वे जिले मे ंचल रहे कोविड केयर सेन्टरों में पर्याप्त स्वच्छता, साफ सफाई व्यवस्था एवं सामान्य व्यवस्थाएं यथा भोजन, पीने का पानी इत्यादि चाक चाबन्द रखेंगे। इसी प्रकार मण्डियों में लोगों की बेरोकटोक आवाजाही रोकने तथा कोविड-19 की गाईड लाईन की पालना करवाने, बिना मास्क लगाए मण्डी परिसर में किसी भी व्यक्ति को प्रवेश नहीं देने एवं मण्डी परिसर में समस्त दुकानदार मास्क लगाकर रहे यह सुनिश्चित करने का दायित्व सचिव कृषि उपज मण्डी समिति बाडमेर एवं बालोतरा का होगा। निजी बसों एवं आवागमन के अन्य साधनों में ओवर लोडिंग पर अंकुश लगाने एवं कोविड-19 की गाईड लाईन की पूर्ण पालना करवाने, उल्लंघन करने वालों पर नियमानुसार कार्यवाही कर जुर्माना लगाने एवं वाहनों को सीज करने का दायित्व जिला परिवहन अधिकारी बाडमेर, बालोतरा एवं पुलिस विभाग का रहेगा। 
 जिला कलक्टर ने बताया कि उक्त समस्त कार्यो की क्रियान्विति एवं इनकी सख्ती के साथ पालना करवाने की जिम्मेवारी संबंधित उपखण्ड अधिकारी, उप अधीक्षक पुलिस की रहेगी। इसके अलावा केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा समय समय पर कोविड-19 के संबंध में जारी समस्त दिशा निर्देशों की अक्षरशः पालना भी सुनिश्चित करेंगे। उन्होने सख्त हिदायत दी है कि उपरोक्तानुसार सौंपे गये दायित्वों के निर्वहन करवाने में किसी भी प्रकार की लापरवाही बरती जाने पर संबंधित अधिकारी के विरूद्ध नियमानुसार कठोर कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।