ALL मध्यप्रदेश उत्तराखंड उत्तरप्रदेश गुजरात,राजस्थान छतीसगढ़,उड़ीसा दिल्ली हरियाणा,पंजाब महाराष्ट्र पंजाब,जम्मू कशमीर बिहार,झारखंड
किसानों को मोदी सरकार व्दारा लाये गए कृषि सुधार विधेयक का बताया महत्व,
October 17, 2020 • Aankhen crime par • मध्यप्रदेश

किसानों को मोदी सरकार व्दारा लाये गए कृषि सुधार विधेयक का बताया महत्व,

होशंगाबाद- किसानों को वर्तमान परिस्थिति में अधिक से अधिक राहत की आवश्यकता है। किसान अपनी फसल के दाम खुद तय कर " एक राष्ट्र एक बाजार" के अनुरूप अधिक लाभ हासिल कर सके। इसी उद्देश्य को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व्दारा हाल ही में संसद के दोनों सदनों में कृषि सुधार विधेयक 2020 पारित किया गया। उक्त जानकारी देते हुए भाजपा जिलाध्यक्ष माधवदास अग्रवाल ने बताया कि कृषि सुधार विधेयक पारित होने पर किसान मोर्चा पूरे जिले में घर घर संपर्क अभियान, गांव की चौपाल पर चर्चा, जिले के बुद्धीजीवियों के साथ वेबीनार तथा पत्रकार वार्ता के माध्मय से किसान बंधुओं के बीच जाकर जनजागरण अभियान चला रहा है। शुक्रवार को किसान मोर्चा कार्यकर्ताओं ने खापरखेड़ा, पिपरिया ग्रामीण एवं आरी मम्डल में बैठक आयोजित की। वहीं शनिवार को डोलरिया के ग्राम भट्टी में मुख्य वक्ता और जिला उपाध्यक्ष संदेश पुरोहित ने भारतीय जनता पार्टी की सरकार और उनके द्वारा उठाए गए किसान हितेषी प्रयासों की जानकारी देते हुए किसान मोर्चा के सभी कार्यकर्ताओं को जन जन तक पहुंचने के लिए प्रेरित किया। मोर्चा जिला महामंत्री उमेश पटेल ने कृषि सुधार विधेयक 2020 और भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा की भूमिका पर प्रकाश डालने के साथ साथ कृषि सुधार विधेयक की उपयोगिता बताई। मोर्चा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य योगेंद्र राजपूत ने कृषि सुधार विधेयक 2020 की उपयोगिता के साथ-साथ विपक्ष के भ्रामक प्रचार को नकारते हुए किसान मोर्चा के कार्यकर्ताओं से बिल के समर्थन में गांव गांव जाने का आह्वान किया। भाजपा नेता और सांसद प्रतिनिधि शैलेंद्र दीक्षित ने कृषि सुधार विधेयक 2020 के विभिन्न प्रावधानों और बिल की उपयोगिता पर प्रकाश डाला, बैठक में प्रताप सिंह राजपूत, हरि मेहतो, ब्रजकिशोर पटेल सुनील चौधरी, बृजेश चौधरी, महेश महतो, दयाराम साध, मुकेश राजपूत, अजमेर राजपूत, शिवशंकर वर्मा (धन्नू)  मंटूलाल सरपंच, हंस कुमार दुबे, राजकुमार मेहरा, सत्यनारायण सिंह सहित अन्य भाजपा कार्यकर्ता व कृषक उपस्थित थे।
 
प्रदीप गुप्ता की रिपोर्ट