ALL मध्यप्रदेश उत्तराखण्ड उत्तरप्रदेश राजस्थान छतीसगढ़ दिल्ली हरियाणा महाराष्ट्र तेलंगाना बिहार
खरहटा ग्राम की नदी के मुहाने पर अवैध रेत का भंडारण
September 3, 2020 • Aankhen crime par • मध्यप्रदेश

बड़वारा
खरहटा ग्राम की नदी के मुहाने पर अवैध रेत का भंडारण
सूबे के मुखिया शिवराज सिंह चौहान ने स्पष्ट तौर पर प्रशासनिक अधिकारियों को  निर्देश दिए हुए हैं कि बारिश के मौसम में प्रदेश में कहीं भी किसी भी नदी से रेत का उत्खनन परिवहन नही किया जाएगा यदि कोई भी व्यक्ति प्रदेश की जीवनदायनी नदियों से रेत का उत्खनन परिवहन करता पाया जाएगा तो प्रशासन उनसे सख्ती से निपटेगा किन्तु बड़वारा का स्थानीय प्रशासन रेत माफियाओं के आगे नतमस्तक नजर आ रहा है। गाहे बगाहे किसी रेत भरे  ट्रेक्टर को पकड़ कर अपनी पीठ थपथपाने 
की ही मानसिकता बन चुकी है।
विष्टा कम्पनी के मार्फत हो रहा अवैध कारोबार- रेत कारोबार का ठेका विष्टा कम्पनी ने लिया हुआ है और कम्पनी से जुड़े हुए रसूखदार और सफेदपोश लोग जो अपने  आपको जनता का हिमायती बता रहे हैं ये कुछ लोग राजनीति में भी दखल रखते हैं ये रेत के अवैध कारोबार में संलिप्त हैं। स्थानीय प्रशासन भी इनके खिलाफ कार्रवाई करने की बजाय इनकी जी हुजूरी में लगा रहता है l
नदी के समीप लगा रेत का अवैध भंडार- ग्राम खरहटा में स्थित नदी के समीप रेत का अवैध भण्डारण किया गया है।वाकायदा रेत कारोबारियों ने नदी के समीप ही अपना दफ्तर बनाया हुआ है जहां पर कम्पनी से जुड़े हुए लोग जिसमे रसूखदार एवम जनप्रतिनिधियों के शागिर्द बैठते हैं और वहॉं से पूरी रात रेत का परिवहन करवाया जाता है। सवाल यह उठता है कि जब वारिश में नदियों से रेत का उत्खनन परिवहन पूर्णतः प्रतिवन्धित है तो फिर नदी के नजदीक इतनी भारी मात्रा में रेत का भंडारण किस नियम के तहत किया गया है और रेत का परिवहन किसके आदेश पर किया जा रहा है। क्या प्रशासन इन रेत माफियाओं के विरुद्ध कार्रवाई करने की हिमाकत कर पायेगा।