ALL मध्यप्रदेश उत्तराखण्ड उत्तरप्रदेश राजस्थान छतीसगढ़ दिल्ली हरियाणा महाराष्ट्र तेलंगाना बिहार
केन्द्र एवं प्रदेश शासन द्वारा गरीबों के कल्याण के लिए निरंतर कार्य कर रही है-मंत्री श्री सिंह
September 16, 2020 • Aankhen crime par • मध्यप्रदेश
केन्द्र एवं प्रदेश शासन द्वारा गरीबों के कल्याण के लिए निरंतर कार्य कर रही है-मंत्री श्री सिंह
कोरोना त्रासदी में भी शासन गरीबों के हक दिलाने में लगा है-मंत्री श्री सिंह, शत प्रतिशत हितग्राहियों को योजनाओं का लाभ दिया जाएगा-कलेक्टर
पन्ना | 16-सितम्बर
 
 
     जिला मुख्यालय के साइंस कॉलेज के नवनिर्मित सभाकक्ष में मुख्यमंत्री कल्याण कार्यक्रम के अन्तर्गत मुख्यमंत्री अन्नपूर्णा योजना के तहत आयोजित हितग्राहियों को नवीन पात्रता पर्ची एवं राशन एवं दिव्यांगजनों को सहायक उपकरण वितरण कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम में प्रदेश के खनिज साधन एवं श्रम विभाग मंत्री श्री बृजेन्द्र प्रताप सिंह मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रहे। उन्होंने इस अवसर पर कहा कि केन्द्र सरकार और राज्य शासन द्वारा गरीबों के कल्याण के लिए अनेकों योजनाएं संचालित की गयी हैं। कोरोना त्रासदी के दौरान भी शासन द्वारा गरीबों का हक दिलाया जा रहा है। आगामी आने वाले समय में भी गरीबों को विभिन्न योजनाओं से लाभान्वित किया जाएगा।
    आयोजित कार्यक्रम का शुभारंभ मंत्री श्री सिंह, कलेक्टर श्री संजय कुमार मिश्र एवं जनप्रतिनिधियों द्वारा संयुक्त रूप से दीप प्रज्जवलन कर किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि श्री सिंह द्वारा अपने उद्बोधन में कहा गया कि शासन द्वारा प्रत्येक वर्ग के कल्याण की योजनाएं चलाई जा रही हैं। कोरोना महामारी से प्रदेश के संक्रमित होने के साथ ही शासन द्वारा गरीबों की ओर ध्यान दिया गया। पहले उन्हें परिवहन की सुविधा उपलब्ध कराने के साथ भोजन की व्यवस्था की गयी। विभिन्न राज्यों एवं महानगरों से वापस आए श्रमिकों को निःशुल्क खाद्यान्न उपलब्ध कराया गया। फुटपाथ पर ठेली पर व्यवसाय करने वाले छोटे-छोटे व्यवसायियों की कठिनाईयों को ध्यान में रखते हुए प्रत्येक व्यवसायी के बैंक खातों में 10-10 हजार रूपये की राशि अंतरित कराई गयी। इस राशि से वे अपने व्यवसाय को पुनः शुरू करें और धीरे-धीरे शासन को राशि वापस करता रहेगा यह क्रम निरंतर जारी रखा जाएगा। किसानों को बगैर ब्याज के ऋण उपलब्ध कराया जा रहा है। शासन की श्रमिकों के कल्याण के लिए संचालित संबल योजना में जन्म लेने से योजनाओं का लाभ मिलना शुरू हो जाता है। गरीबों के कल्याण के लिए हर तरह की योजनाएं चलाई जा रही है। उन्होंने कहा कि वर्तमान में कोरोना वायरस संक्रमण से सावधान रहना हम सब की जिम्मेदारी है। सभी को शासन द्वारा कोरोना संक्रमण रोकने के लिए दिए गए निर्देशों का अनिवार्य रूप से पालन करना चाहिए।
    कलेक्टर श्री मिश्र ने उपस्थितों को सम्बोधित करते हुए बताया कि जिला प्रशासन द्वारा गरीबों की हरसंभव सहायता की जा रही है। प्रत्येक पात्र हितग्राही को शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जिले में 41959 नवीन पात्र सदस्यों की पहचान की गयी है। उनमें 38528 सदस्यों को नवीन पात्रता पर्ची वितरित की जा रही है। नवीन पात्रता पर्ची वितरण का कार्यक्रम जिले की सभी ग्राम पंचायतों में आयोजित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि प्राथमिकता वाले परिवारों को प्रति सदस्य 4 किलो गेंहू, 1 किलो चावल के मान से प्रतिमाह वितरित किया जाता है। इसी प्रकार अन्त्योदय योजना के परिवारों को 30 किलो गेंहू, 5 किलो चावल, 1 किलो शक्कर, 1 किलो चना, 2 लीटर कैरोसिन दिया जाता है। सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत 25 प्रकार के परिवारों को खाद्यान्न सामग्री उपलब्ध कराई जाती है। उन्होंने बताया कि जिले में कोरोना काल में 7 हजार 745 परिवारों को 4 किलो गेंहू, 1 किलो चावल के मान से प्रतिमाह उपलब्ध कराया जा रहा है। उन्होंने बताया कि नवीन पात्रता सदस्यों में पर्ची वितरण के शेष सदस्यों को मशांत तक पर्ची का वितरण कर दिया जाएगा। आगामी आने वाले समय में भी शासन की योजनाओं का निरंतर लाभ हितग्राहियों को मिलता रहेगा। इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष श्री रविराज सिंह यादव के साथ अन्य जनप्रतिनिधियों द्वारा भी सम्बोधित किया गया।
    कार्यक्रम के समापन अवसर पर प्रतीकात्मक रूप से 10 लोगों को पात्रता पर्ची का वितरण किया गया। इसी प्रकार दिव्यांगों को सहायक उपकरण में धीरज गौड, सनमती गौड को ट्राइसायकिल, मुकेश कुशवाहा, भरत यादव को वैशाखी और रमेश साहू को श्रवण यंत्र वितरित किए गए। सम्पन्न हुए इस कार्यक्रम में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री बालागुरू के, अपर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री अशोक चतुर्वेदी, प्रभारी खाद्य अधिकारी सुश्री सरिता अग्रवाल, श्री संजय सिंह परियोजना अधिकारी जिला पंचायत, जनपद उपाध्यक्ष श्रीमती शोभा सिंह, बुन्देलखण्ड विकास प्राधिकरण के पूर्व उपाध्यक्ष श्री जयप्रकाश चतुर्वेदी, श्री रामबिहारी चौरसिया, श्री राजेन्द्र कुशवाहा, श्री राजेन्द्र प्रधान, श्री पुष्पेन्द्र लटौरिया के साथ हितग्राही एवं आमजन उपस्थित रहे।