ALL मध्यप्रदेश उत्तराखंड उत्तरप्रदेश गुजरात,राजस्थान छतीसगढ़,उड़ीसा दिल्ली हरियाणा,पंजाब महाराष्ट्र पंजाब,जम्मू कशमीर बिहार,झारखंड
कौशाम्बी से खबर*राष्ट्रीय राजमार्ग चौड़ी करण अझुवा में प्रस्तावित भौतिक सत्यापन हेतु डीएम ने किया निरीक्षण
October 17, 2020 • Aankhen crime par • उत्तरप्रदेश

कौशाम्बी से खबर*राष्ट्रीय राजमार्ग चौड़ी करण अझुवा में प्रस्तावित भौतिक सत्यापन हेतु डीएम ने किया निरीक्षण

*दो क्रॉसिंग  अंडर पुल नहीं दिए गए तो नगर वासियो की दिक्कतें बढ़ जाएगी

अझुवा कौशाम्बी  नगर पंचायत अझुवा में सिक्स लेन सड़क के निर्माण के चलते 900 मीटर लंबे ओवर ब्रिज का निर्माण होना है इस निर्माण में नगर वासियों को दो क्रॉसिंग पुल नहीं दिए गए तो नगर वासियो की दिक्कतें बढ़ जाएगी आज जिलाधिकारी ने मौके का निरीक्षण किया है।

राष्ट्रीय राजमार्ग पर 6 लेन सड़क निर्माण का कार्य प्रगति पर है जिसमे नगर पंचायत में ओवरब्रिज के सत्यापन के लिए जिलाधिकारी अमित कुमार सिंह ने राष्ट्रीय राजमार्ग के प्रोजेक्ट मैनेजर के साथ सत्यापन किया,जहां नगर वासियों ने मांग रखी कि राष्ट्रीय राजमार्ग अझुवा में एलिवेटेड पुल  (पिलर दार ब्रिज)बनाया जाय!! भोला चैराहे और टाण्डा मार्ग चौराहे पर अंडर क्रासिंग का निर्माण किया जाय ।

जबकि नगर पंचायत में निर्मित होने वाले ओवरब्रिज के केवल एक ही जगह पर क्रासिंग का प्रस्ताव कर टेंडर की भी प्रक्रिया हो गयी है।इस मांग पर जिला अधिकारी अमित कुमार सिंह ने भरोसा दिया है !उन्होंने कहा कि इस बिषय में शासन को अवगत कराया जाएगा।

इस अवसर पर अधिशासी अधिकारी सूर्य प्रकाश गुप्ता, ओमप्रकाश कुशवाहा, फूल चंद्र केसरवानी,कृष्ण कुमार बाजपेयी, शंकर लाल केसरवानी,रवि कुमार वैश्य ,करन सिंह,ज्ञान शर्मा,मुन्ना जहाजी शिव प्रताप मौर्य,गुड्डू कुशवाहा, दीपक केसरवानी,बड़े लाल केसरवानी सहित सैकड़ों लोगों ने कहा कि उजड़ रहे नगर को कुछ सहूलियत मिल सकती है यदि एक अंडर क्रासिंग पुल भोला चैराहे पर बने,दूसरा टाण्डा रोड मंडी समिति के पास !! 

,वही वरिष्ठ समाजसेवी ओम प्रकाश कुशवाहा ने कहा यदि नगर में दो क्रासिंग  अंडर पुल नही दिए गए तो  भीड़  के साथ ही पहले-पहले निकलनेकी होड़ में अनावश्यक विवाद हुआ करेंगे उसका सबसे बड़ा कारण नगर पंचायत अझुवा को बड़ी गल्ला सहित  सब्जी मार्केट गुड़ मंडी से विख्यात है। जहां पर क्षेत्रीयव्यापारियों,खरीददारों,दुकानदारों का  आना जाना है इस पर शासन और प्रशासन को गौर ही करना चाहिए।!
एसीपी न्यूज़ चैनल कौशाम्बी से ब्यूरो चीफ पवन मिश्रा की रिपोर्ट