ALL मध्यप्रदेश उत्तराखण्ड उत्तरप्रदेश राजस्थान छतीसगढ़ दिल्ली हरियाणा महाराष्ट्र तेलंगाना बिहार
कंटेन्मेंट जोन का तहसीलदार ने किया निरीक्षण, दिए आवश्यक दिशा-निर्देश।
August 5, 2020 • Aankhen crime par • मध्यप्रदेश

कंटेन्मेंट जोन का तहसीलदार ने किया निरीक्षण, दिए आवश्यक दिशा-निर्देश।

बैतूल/सारनी। कैलाश पाटिल

वार्ड 18 में 1 अगस्त को बिहार से लौटे 29 वर्षीय युवक के कोरोना संक्रमित पाये जाने के बाद बने कंटेन्मेंट जोन का निरीक्षण लगातार जिला कलेक्टर राकेश सिंह, तहसीलदार मोनिका विश्वकर्मा के द्वारा किया जा रहा हैं। बुधवार को भी घोड़ाडोंगरी तहसीलदार मोनिका विश्वकर्मा ने वार्ड क्रमांक 18 में बने कंटेनमेंट जोन का निरीक्षण किया।प्राप्त जानकारी के अनुसार तहसीलदार ने कंटेन्मेंट जोन कि देखरेख को उपस्थित कर्मचारियों की जानकारी ली। जिस दौरान नपाकर्मी की अनुपस्थित होने पर तत्काल नगर पालिका सीएमओ को कर्मचारी की अनुपस्थिति के बारे में पूछने को कहा। परंतु कुछ देर बाद ही नपा कर्मचारी ने कंटेन्मेंट जोन पहुँचकर तहसीलदार को अवगत कराया कि 5 मिनट पहले ही भोजन करने गया था, जिस पर तहसीलदार ने कहा कि अगली बार से ध्यान रहे कि आपको अपना टिफिन साथ लेकर आना है और कंटेनमेंट एरिया पर जब तक आपकी ड्यूटी है तब तक आपको तैनात रहना होगा। इसके अलावा बताया जाता है कि बार-बार एक परिवार द्वारा कंटेनमेंट एरिया से बाहर आवागमन करने की शिकायत मिलने पर उन्होंने संबंधित परिवार को बुलाकर कड़े शब्दों में कहा कि अगर बार-बार कंटेनमेंट एरिया से आप लोग बाहर निकलेंगे तो आप पर सख्त कार्रवाई की जाएगी और इस बार चालानी कार्रवाई नहीं होगी बल्कि सख्त कार्रवाई होगी। जिसके बाद तहसीलदार ने मौके पर उपस्थित आशा कार्यकर्ताओं से वार्ड की स्थिति के बारे में जानकारियां ली और कहा कि हमें सजग रहना है क्योंकि संक्रमण कहीं भी हो सकता है। इसी दौरान बिना मास्क के कंटेनमेंट जोन के पास से जा रहे एक युवक को रोककर उस पर तहसीलदार ने चालानी कार्रवाई भी की। गौरतलब हो कि प्रशासन कहीं ना कहीं कोरोना संक्रमण को लेकर काफी हद तक गंभीर दिखाई दे रहा है, क्योंकि पाथाखेड़ा तथा शोभापुर क्षेत्र में लगातार रोजाना कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है। इसलिए प्रशासन भी हर वह प्रयास कर रहा है जिससे संक्रमण को रोका जा सके। इसी का जीता जागता उदाहरण है कि तहसीलदार खुद स्वयं क्षेत्र में सड़कों पर निकल कर बिना मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ चालानी कार्रवाई कर रही हैं।