ALL मध्यप्रदेश उत्तराखंड उत्तरप्रदेश गुजरात,राजस्थान छतीसगढ़,उड़ीसा दिल्ली हरियाणा,पंजाब महाराष्ट्र पंजाब,जम्मू कशमीर बिहार,झारखंड
जिले में कीट व्याधि से हुई फसल क्षति के आंकलन हेतु भारत सरकार की इटंर मिनिस्ट्रीयल सेन्ट्रल टीम 30 सितम्बर को सिवनी मालवा पहुंची,
October 1, 2020 • Aankhen crime par • मध्यप्रदेश

होशंगाबाद - जिले में कीट व्याधि से हुई फसल क्षति के आंकलन हेतु भारत सरकार की इटंर मिनिस्ट्रीयल सेन्ट्रल टीम 30 सितम्बर को सिवनी मालवा पहुंची, आईएमसीटी टीम में संचालक एफसीडी, व्यय विभाग दिल्ली  भारतेंदू कुमार सिह एवं संचालक  मूल्यांकन एवं निगरानी विभाग भोपाल  मनोज पोनिकर शामिल रहें। टीम द्वारा तहसील सिवनीमालवा के ग्राम पगढाल , रावनपीपल एवं भरलाय में फसलों का निरीक्षण किया । इस दौरान अपर कलेक्टर  जी पी माली, उपसंचालक कृषि  जितेंद्र सिंह , तहसीलदार  दिनेश साल्वे, कृषि वैज्ञानिक डॉ  के के मिश्रा , डॉ ए के चौधरी, नायब तहसीलदार श्री नीलेश पटेल  सहित कृषकगण मौजूद रहें। आईएमसीटी टीम द्वारा किसानों से विस्तृत चर्चा की गई एवं उनकी फसलों को हुए नुकसान के संबंध में जानकारी ली । कृषि वैज्ञानिक के के मिश्रा द्वारा बताया गया कि इस बार सोयाबीन की फसलों में प्रमुख रूप से रेक्टोजोनिया रूट चार्ट एवं लीफ स्पॉट बीमारी  अधिक देखी गई  तथा जिले में हुई भारी वर्षा से कीट व्याधि के प्रकोप में वृद्धि हुई है, जिससे फसलों को बहुत अधिक नुकसान हुआ है। सर्वे दल ने  पटवारियों द्वारा किए गए फसल क्षति रिपोर्ट का निरीक्षण किया । उन्होंने जिले में हुए फसल क्षति सर्वे कार्य की सराहना की। सर्वे टीम ने ग्राम पगढाल में कृषक कार्तिक नारायण ग्राम रावनपीपल कृषक संतोष रघुवंशी  एवं ग्राम भरलाए में कृषक राकेश कुमार विजय सिंह ,कृषक संतोष रघुवंशी के खेतों में फसलों का निरीक्षण किया।
प्रदीप गुप्ता की रिपोर्ट