ALL मध्यप्रदेश उत्तराखण्ड उत्तरप्रदेश राजस्थान छतीसगढ़ दिल्ली हरियाणा महाराष्ट्र तेलंगाना बिहार
जिलाधिकारी ने जिला भूमि एवं जल संरक्षण समिति, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन एवं कृषि तकनीकी प्रबन्ध अभिकरण के सम्बन्ध में की बैठक,
August 20, 2020 • Aankhen crime par • उत्तरप्रदेश

जिलाधिकारी ने जिला भूमि एवं जल संरक्षण समिति, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन एवं कृषि तकनीकी प्रबन्ध अभिकरण के सम्बन्ध में की बैठक,

किसानों को तकनीकी जानकारी, उन्नति बीज एवं जैविक खाद के प्रति जागरूक किया जाये-जिलाधिकारी

  जिलाधिकारी डा0 रूपेश कुमार की अध्यक्षता में आज कैम्प कार्यालय के सभागार में जिला भूमि एवं जल संरक्षण समिति, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन (एन0एफ0एस0एम0) अधिशाषी समिति एवं कृषि तकनीकी प्रबन्ध अभिकरण (आत्मा) गवर्निंग बोर्ड की बैठक की गयी। बैठक के दौरानं जिलाधिकारी ने सद्भावना दिवस के अवसर पर सभी अधिकारियों को शपथ दिलायी। जिला भूमि एवं जल संरक्षण समिति की बैठक में भूमि संरक्षण अधिकारी-द्वितीय द्वारा बताया गया कि मनरेगा योजनान्तर्गत भूमि संरक्षण इकाई प्रथम का लक्ष्य 650 हे0 तथा 33289 मानव दिवस एवं भूमि संरक्षण इकाई द्वितीय का लक्ष्य 566 हे0 एवं 31327 मानव दिवस सृजित किया गया है। मनरेगा योजनान्तर्गत कण्टूर बांध, मार्जिनल बांध, पेरीफेरल बांध, अवरोध बांध, समतलीकरण के साथ-साथ जल भराव, भूमि एवं जल संरक्षण का कार्य चयनित किया गया है जिसका उद्देश्य कृषकों की अनुउपजाऊ/कम उपजाऊ भूमि का सुधार एवं दैनिक मजदूरी के माध्यम से रोजगार का सृजन तथा वितरण एवं बंजर भूमि का विकास कर कृषि उत्पादन योग्य बनाना है। इसी तरह से खेत तालाब योजना के अन्तर्गत कुल 20 तालाबों का लक्ष्य रखा गया है जिस पर धनराशि प्राप्त होते ही कार्य प्रारम्भ किया जायेगा। 
  जिलाधिकारी ने मनरेगा योजनान्तर्गत कराये जाने वाले कार्यो की अनिवार्य रूप से जियो टैगिंग कराने का निर्देश दिया, साथ ही जो भी कार्य कराये जाये गुणवत्ता परख तथा मानक के अनुरूप हो। जिलाधिकारी ने भूमि संरक्षण अधिकारी प्रथम को निर्देशित किया कि विभाग द्वारा कराये जाने वाले कार्यो की सूची उपलब्ध कराये ताकि कार्यो का निरीक्षण किया जा सके। राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन (एन0एफ0एस0एम0) के सम्बन्ध में उप कृषि निदेशक डा0 रघुराज सिंह ने बताया कि कलस्टर प्रदर्शन योजना अन्तर्गत खरीफ एवं रबी में 2200 हेक्टेयर प्रदर्शन एवं 2570 कुन्तल बीज वितरण का लक्ष्य प्राप्त हुआ। कृषि यंत्रों का वितरण मुख्यालय द्वारा पोर्टल के माध्यम से कृषकों के आनलाइन चयन हेतु टोकन एवं प्री-बुकिंग की कार्यवाही की जा रही है। इसी प्रकार जिलाधिकारी ने कृषि तकनीकी प्रबन्ध अभिकरण (आत्मा) की समीक्षा की एवं आवश्यक दिशा निर्देश दिये। बैठक में जिलाधिकारी ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि किसानों से सम्बन्धित जो योजनायें है वह किसानों तक अवश्य पहुॅचायी जाये तथा उन्हें तकनीकी जानकारी एवं उन्नति बीज, जैविक खाद के प्रति जागरूक किया जाये ताकि ज्यादा से ज्यादा फसल उत्पादन कर किसानों की आय में वृद्धि की जा सके। किसानों से सम्बन्धित योजनाओं के वितरण में यदि किसी भी प्रकार की लापरवाही एवं उदासीनता बरती जायेगी तो सम्बन्धित के खिलाफ कार्यवाही की जायेगी। बैठक में उप कृषि निदेशक डा0 रघुराज सिंह, जिला सूचना अधिकारी विजय कुमार, जिला कृषि अधिकारी अश्वनी कुमार सिंह, भूमि संरक्षण अधिकारी प्रथम डा0 रमेश चन्द्र, भूमि संरक्षण अधिकारी द्वितीय विनोद कुमार यादव, जिला उद्यान अधिकारी अनिल कुमार दूबे, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा0 विजय प्रताप सिंह सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहे।