ALL मध्यप्रदेश उत्तराखण्ड उत्तरप्रदेश राजस्थान छतीसगढ़ दिल्ली हरियाणा महाराष्ट्र तेलंगाना बिहार
गढ्डो मे तब्दील हुई सडक वाहनो को पंहुच रहा नुकसान
September 1, 2020 • Aankhen crime par • मध्यप्रदेश

मसनगांव - स्टेट हाईवे की सड़क  गड्ढों में तब्दील हो गई है हरदा से   खिरकीया  तक सड़क मे वने जानलेवा गड्ढों से वाहनो को नुकसान पंहुचने लगा है वही दोपहीया वाहनो के दुर्घटना का अंदेशा बना हुआ है जिसमे हरदा से वाहर निकलते ही सिविल लाइन थाने के करीब बने दोनो और के गड्ढे में कभी भी बड़ी दुर्घटना हो सकती है क्योकी वाहन को गड्ढों से बचाने के चक्कर में कभी भी आमने-सामने की भिडंत हो सकती है जहां पुलिस विभाग द्वारा लगातार  सघन चेकिंग कर वाहन चालकों को हेलमेट तथा सीट बेल्ट लगाने की सलाह दी जा रही है हेलमेट नही  लगाने पर तथा सीट बेल्ट नहीं बांधने पर जुर्माना वसूल किया जा रहा है परंतु सड़कों पर बने गड्ढों की ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है जिससे वाहन चालको को दोहरी मार लग रही है एक और उनके वाहन खटारा हो रहै हि वही जुर्माने के नाम भारी भरकम राशि पुलिस को देना पड़ रही है जबसे वी ओ टी योजना समाप्त हुई है तबसे जिले की सड़को का भगवान रखवाला है यंहा पर  विधायक से लेकर मंत्री तथा बड़े अधिकारी आवागमन करते हैं परंतु उनकी निगाहें गड्ढों की ओर नहीं जा पाती जिससे बारिश के पहले से ही बने हुए छोटे गड्ढे बड़ा आकार लेने लगे हैं जिसमें वाहन चालकों को महान चलाने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है ।वी ओ टी योजना के अंतर्गत पहले सड़कों का रखरखाव कंपनीयो द्वारा किया जाता था जिसमें बारिश के दिनों में भी खतरनाक गड्ढों को भरने का काम चालू रहता था परंतु इस योजना के समाप्त होने के बाद सड़कों पर रखरखाव का अभाव होने से वापस सड़क गड्ढों में तब्दील होती जा रही है इसका खामियाजा वाहन चालकों को भुगतना पड़ रहा है। वाहन चालको ने बताया कि बीच सड़क पर हुए गड्ढों में पानी भर जाने ने के पश्चात यह समझ नहीं आता कि गड्ढा कितना गहरा है जिसमें वाहन जाने के बाद पटकाता है तब तक दुघॅटना घट जाती है क्षेत्र के लोगों ने सड़कों में हुए गड्ढों को भरने की मांग करते हुए सड़क पर नई डामर की परत चढ़ाने की मांग की है।
मसनगांव से अनिल  दीपावरे की रिपोर्ट