ALL मध्यप्रदेश उत्तराखण्ड उत्तरप्रदेश राजस्थान छतीसगढ़ दिल्ली हरियाणा महाराष्ट्र तेलंगाना बिहार
धुप निकलते ही अचानक मुरझाने  लगी सोयाबिन की फसल
August 23, 2020 • Aankhen crime par • मध्यप्रदेश

धुप निकलते ही अचानक मुरझाने  लगी सोयाबिन की फसल
कृषि विभाग की सलाह भी नही आयी काम 
जिस खेत मे किया दवा का स्प्रे वह पुरा खेत ही सुख गया
मसनगांव- जिस खेत मे कृषि वैज्ञानिको द्वारा टेबुकोनाझोल तथा सल्फर का स्प्रे  करने की सलाह दी थी उसमे कृषक रामनिवास पटेल द्वारा तुरंत दवाई लाकर खेत में स्प्रे किया  गया परंतु दूसरे दिन पूरे खेत में फसल सूख कर खड़ी हो गई। यही हालत अन्य खेतों की बनी हुई है जहां पर रविवार के दिन थोड़ी सी धूप निकलते ही अचानक से हरे पौधे मुरझा  गए जिससे देखने के लिए किसान अपने खेतों में पहुंचे जहां पर उन्होंने देखा कि सुबह जो पौधे हरे थे वह भी अचानक से मुरझाकर  सुखने लगे।ग्राम के  किसान राजा भायरे,राकेश पाटिल,श्रीराम पटल्या,उमेश छलौत्रे,वाजुलाल छलौत्रे,आदि ने वताया की जंहा  फसलें सुबह अलग लग रही थी  वहीं दोपहर मे धुप निकलने  के पश्चात सोयाबिन के पुरे खेत सूखे दिखाई देने लगे। किसानों का यह भी कहना है कि इस प्रकार की बीमारी पहली बार देखने को मिली जहां कुछ घंटों में खेत के खेत सुखे दिखाई देने लगे बारिश के दौरान तो कहीं-कहीं हरी फसल का रंग भदा होकर जगह जगह टांके मे  पीली होकर फसल सूखने लगी थी परंतु धूप निकलने के बाद अचानक पूरे खेत सूखने से किसान सकते मे आ गये।जिन किसानो की फसले थोडी ठीक थी वह भी सुखने लगी है।पहले अफलन की स्थिती के वाद अब फसलो के सुखने से किसानो की  पानी फिर गया है यही स्थिति रही तो आने वाले पखवाडे में सोयाबीन की कटाई क्षेत्र में शुरू हो जाएगी जो कटाई से भी मंहगी पडेगी क्योकी उसमे अभी दाना वैठ ही नही पाया है और फसल एकदम से सुख गई जिसका नुकसान किसानो को उठाना पड़ेगा, क्षेत्र के किसानों ने फसलों की स्थिति को देखते हुए शासन से सर्वे कराकर बीमा तथा मुआवजा राशि दिलवाने की मांग की है।
मसनगांव से अनिल दीपावरे की  रिपोर्ट