ALL मध्यप्रदेश उत्तराखण्ड उत्तरप्रदेश राजस्थान छतीसगढ़ दिल्ली हरियाणा महाराष्ट्र तेलंगाना बिहार
दलित महिला एवं उनकी बेटियों के साथ मारपीट का भीम आर्मी ने किया विरोध,
August 22, 2020 • Aankhen crime par

दलित महिला एवं उनकी बेटियों के साथ मारपीट का भीम आर्मी ने किया विरोध,

कड़ी कार्यवाही के लिए सौंपा ज्ञापन।

बैतूल/सारनी। कैलाश पाटिल

मध्य प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश में महिलाओं एवं बच्चियों के सुरक्षा की दृष्टि से प्रदेश के प्रत्येक जिले में कलेक्टर एवं एसपी को सख्त लहजे में यह हिदायत दे रखी है कि, मेरे प्रदेश की महिलाओं एवं बच्चियों के साथ कोई भी व्यक्ति दुर्व्यवहार नहीं करेगा। ऐसा कोई व्यक्ति किसी प्रकार का महिलाओ के साथ दुर्व्यवहार करता पाया जाता है, तो उसके खिलाफ सख्त कड़ी कार्यवाही की जाएगी। महिलाओं के साथ हो रहे अत्याचार के मामलों को लेकर मध्यप्रदेश सरकार ने कड़े कदम उठाए हैं। बैतूल जिले का सारनी क्षेत्र के क्लब कॉलोनी वार्ड क्रमांक 33 शोभापुर का है। यंहा स्थानीय आरएसएस नेता एवं उनके भाई भाजपा नेता होने की अकड़ में अपने ही वार्ड की 45 वर्षीय महिला अपनी दो बेटियों के साथ शोभापुर में रहती है। उक्त व्यक्तियों ने दलित महिला के साथ मारपीट की है।  भीम आर्मी प्रदेश महासचिव एड. राकेश महाले एवं समाज के युवा आशीष खातरकर ने ज्ञापन में बताया कि उनके ही वार्ड में भाजपा नेता प्रवीण सूर्यवंशी एवं जोगेन्दर सूर्यवंशी ने महिला के साथ मारपीट की एवं जाति सूचक गालियां देकर मार डालने की धमकी दी है। साथ ही बेटियों को गंदे-गंदे शब्दो से कमेन्ट्स किये है। जिसके कारण महिला ने जिला मुख्यालय पहुँचकर दोषियों पर कड़ी कार्यवाही करने की मांग की है। मारपीट का मामला चौकी प्रभारी के संज्ञान में था। उक्त महिला ने पुलिस चौकी पाथाखेड़ा में रिपोर्ट दर्ज  कराने गई थी लेकिन पीड़ित महिला से आवेदन लेकर उनको चलता कर दिया। जिसको लेकर चौकी प्रभारी द्वारा कोई कार्यवाही नहीं की गई। जबकि घटना 16 अगस्त की है। चौकी प्रभारी द्वारा मामले को दबाया जाने के कारण पीड़ित दलित महिला जिला मुख्यालय पहुंचकर अजाक थाने में शिकायत दर्ज की एवं इस मामले को लेकर पुलिस अधीक्षक से कहा है कि मामले को लेकर त्वरित कार्रवाई की जावे। लेकिन पुलिस प्रशासन द्वारा दर्ज प्रकरण में उक्त दोषियों पर भारतीय दंड संहिता 1860  अधिनियम एवं अनुसूचित जाति  व जनजाति अधिनियम ( एक्ट्रोसिटी) अधिनियम के तहत दंडात्मक कार्यवाही नहीं की गई है। जिसको लेकर भीम आर्मी जिला बैतूल एवं क्षेत्र के सामाजिक युवाओं, वरिष्ठजनो ने पुलिस अधीक्षक बैतूल के नाम थाना सारनी को ज्ञापन दिया है। ज्ञापन में दलित पीड़ित महिला को पुलिस प्रशासन से सुरक्षा मुहैया कराने एवं दोषियों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत प्रकरण दर्ज कर अति शीघ्र कार्रवाई करने की मांग की है। यदि उक्त घटना पर त्वरित कार्रवाई नहीं की जाती है तो प्रदेश स्तर पर बड़ा आंदोलन किया जाएगा। ज्ञापन सौंपने वालों में उपस्थित भीम आर्मी प्रदेश महासचिव एडवोकेट राकेश महाले, समाज के युवा आशीष खातरकर, भीम आर्मी जिला प्रभारी जितेंद्र गोले, समाज के युवा गौतम नागले, भीम आर्मी जिलाध्यक्ष सिद्धार्थ झरबड़े, एडवोकेट लवकुश निरापुर, ब्लॉक अध्यक्ष रवि थोराट, भूतपूर्व सैनिक मुन्नालाल कापसे, पंचशील बुद्ध विहार सचिव राजू पाटिल, समाजसेवी किरण तायडे, शुभम महाले, सुरेश तायडे, शेख अप्पू, राजेश पाटील, अमित सरनकर, गोपाल भूमरकर, वैभव खासदेव सहित आदि भीम आर्मी के कार्यकर्ता और समाज के साथी उपस्थित थे।