ALL मध्यप्रदेश उत्तराखण्ड उत्तरप्रदेश राजस्थान छतीसगढ़ दिल्ली हरियाणा महाराष्ट्र तेलंगाना बिहार
चिन्हित राज्य आंदोलनकारी केंद्रीय कमेटी द्वारा राज्य आंदोलनकारियों को सम्मानित किया गया, एवं आंदोलन के दौरान शहीद हुए आंदोलनकारियों को श्रद्धांजलि अर्पित की गई।
September 13, 2020 • Aankhen crime par • उत्तराखण्ड

थराली चमोली 


चिन्हित राज्य आंदोलनकारी केंद्रीय कमेटी द्वारा राज्य आंदोलनकारियों को सम्मानित किया गया, एवं आंदोलन के दौरान शहीद हुए आंदोलनकारियों को श्रद्धांजलि अर्पित की गई।          

रिपोर्ट।  केशर सिंह नेगी  

राज्य आंदोलनकारी  केंद्रीय समिति द्वारा आयोजित कार्यक्रम के दौरान कोरोना वैरीयस को भी सम्मानित किया गया। रविवार को प्राथमिक विद्यालय देवराडा में आयोजित सम्मान समारोह एवं श्रद्धांजलि कार्यक्रम के दौरान केंद्रीय अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह रावत उर्फ मुन्ना भाई ने कहा कि आंदोलनकारी समिति द्वारा अलग-अलग स्थानों पर कोरोना वैरीयस राज्य आंदोलनकारियों को सम्मानित करने एवं शहीद आंदोलनकारियों को श्रधांजलि अर्पित करने के कार्यक्रम किए जा रहे हैं। इसी के क्रम में थराली विकासखंड में आंदोलनकारियों को सम्मानित करने का कार्यक्रम रखा गया है। कार्यक्रम के दौरान उपस्थित लोगों ने उत्तराखंड राज्य आंदोलन के दौरान शहीद हुए रूप चंद्र सिंह रावत,राजेश रावत एवं नारायण सिंह को पुष्पांजलि अर्पित की गई, बाद मे एक सादे समारोह में उत्तराखंड राज्य आंदोलनकारी मोहन प्रसाद बहुगुणा एवं खीमानंद खंडूरी को फूल माला से सम्मानित कर उन्हें प्रशस्ति पत्र भी दिया गया। इस दौरान को रोना वैरीयस के रूप में कार्य कर रहे मीडिया कर्मियों को भी उत्तराखंड चिन्हित राज्य आंदोलनकारी समिति के केंद्रीय अध्यक्ष द्वारा सम्मानित किया गया।  राज्य आंदोलनकारी खीमानंद खंडूरी ने कहा कि उत्तराखंड राज्य के लिए  सभी उत्तराखंड वासियों द्वारा संघर्ष किया गया था। अभी भी आंदोलनकारियों की कुछ मांगे रह गई हैं जिनके लिए केंद्रीय कमेटी लगातार संघर्ष कर रही है। उन्होंने केंद्रीय कोर कमेटी के द्वारा भूपेंद्र सिंह रावत उर्फ मुन्ना भाई को केंद्रीय अध्यक्ष बनाए जाने पर उन्हें बधाई देते हुए कहा कि उत्तराखंड राज्य आंदोलनकारी आंदोलनकारियों की विभिन्न मांगों को लेकर श्री रावत संघर्ष करेंगे। आंदोलनकारियों की आरक्षण की मांग, आंदोलन के दौरान स्वर्गीय हुए आंदोलनकारियों को शहीद का दर्जा देने एवं राज्य आंदोलनकारियों को स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की तरह राज्य आंदोलनकारी सेनानी धोषित करने की मांगें अभी पूरी नही हुई है   इसके लिए संधर्ष करेगे,सभी आंदोलनकारी उनके साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलेंगे। राज्य आंदोलनकारी मोहन प्रसाद बहुगुणा ने कहा कि आंदोलनकारी अभी चिन्हित होने से रह गए हैं उन्हें चिन्हित किए की प्रक्रिया को पूरा किया जाना चाहिए। उन्होंने आंदोलनकारियों को राजकीय सेवाओं में आरक्षण दिए जाने की बात कही । बाद में अपने अध्यक्षीय भाषण केंद्रीय अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह रावत ने कहा कि आंदोलनकारियों ने उन्हें जिस विश्वास के साथ केंद्रीय अध्यक्ष की जिम्मेदारी दी है वह अपनी जिम्मेदारी एवं आंदोलनकारियों की विभिन्न समस्याओं के निराकरण के लिए हर संभव प्रयास करेंगे। आंदोलनकारियों की मांगों को लेकर सरकार शासन प्रशासन से वार्ता करेंगे। इस दौरान केशर सिंह नेगी, सुभाष पिमोली, लाल सिंह गुसाई,खिलाप सिंह,बलबन्त सिंह,उमेद सिंह,केदार सिंह,भुवन सिंह,अब्बल सिंह,शंकर सिंह,गिरीश चंदोला,अजय सिंह आदि उपस्थित थे।