ALL मध्यप्रदेश उत्तराखंड उत्तरप्रदेश गुजरात,राजस्थान छतीसगढ़,उड़ीसा दिल्ली हरियाणा,पंजाब महाराष्ट्र पंजाब,जम्मू कशमीर बिहार,झारखंड
छात्रों के मध्य ऑनलाइन विधिक साक्षरता कार्यक्रम आयोजित
September 16, 2020 • Aankhen crime par • मध्यप्रदेश
छात्रों के मध्य ऑनलाइन विधिक साक्षरता कार्यक्रम आयोजित
-
पन्ना | 16-सितम्बर
 
 
   जिला न्यायाधीश/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण पन्ना श्री पी.एन. सिंह  के कुशल मार्गदर्शन में 14 सितम्बर ’हिन्दी दिवस’ के अवसर पर शा. मॉडल हा.से. विद्यालय अजयगढ़ में श्री आमोद आर्य सचिव जि0वि0से0प्रा0 द्वारा अध्ययनरत छात्रो के मध्य ऑनलाइन विधिक साक्षरता कार्यक्रम किया गया।
         श्री आमोद आर्य सचिव जि.वि.से.प्रा. ने विद्यालय में अध्ययनरत छात्रों को ’हिन्दी दिवस’ की शुभकामनाये देते हुए कहा कि ’हिन्दी भाषा’ न केवल हमारी मातृभाषा है बल्कि वह बहुत ही समृद्ध है एवं न केवल भारत वरन् विश्व के विभिन्न देशों में बसे विशाल जनसमुदाय द्वारा प्रयुक्त  की जाने वाली भाषा है। हम सभी को अन्य भाषाओं का सम्मान करते हुए हिन्दी भाषा का अधिक से अधिक प्रयोग एवं प्रचार-प्रसार करना चाहिए।
        श्री आर्य ने छात्रों को मौलिक कर्त्तव्यों के बारे में समझाते हुए कहा कि वर्तमान कोविड-19 की परिस्थितियों में ’जहां बचाव ही सुरक्षा है’ का पालन करते हुए सार्वजनिक स्थलों पर मास्क का प्रयोग करना, सामाजिक दूरी का पालन करना, समय-समय पर हाथों का धुलते रहना एवं बेवजह बाहर न निकलना व शासन द्वारा जारी निर्देशों का पालन करते हुए स्वयं एवं दूसरों के जीवन को सुरक्षित रखना भी मौलिक कर्त्तव्य का हिस्सा है आप सभी अपने-अपने कर्त्तव्यों का पालन करें  एवं अपने से जुड़े लोगों को भी पालने करते हेतु जागरूक करे, वर्तमान परिदृश्य में यह एक प्रकार की सेवा है जिसमें हम सभी को अपना योगदान प्रदान करना चाहिए।
                 श्री आर्य ने बच्चों से संवाद स्थापित कर उन्हें भारतीय संविधान की प्रमुख विशेषताओं, बाल विवाह, शिक्षा का अधिकार, बाल मजदूरी, साइबर अपराध, नालसा द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं के बारे में संक्षिप्त जानकारी प्रदान की। विधिक साक्षरता कार्यक्रम में छात्रों द्वारा ’हिन्दी दिवस’ के सम्मान में महापुरूषों की उक्तियों एवं कविता पाठ की प्रस्तुति दी गई। कार्यक्रम के अंत में संस्था प्रभारी श्री अशोक कुमार दुबे द्वारा कार्यक्रम आयोजन हेतु विधिक सेवा प्राधिकरण एवं सचिव जि0वि0से0प्रा0 श्री आर्य के प्रति आभार प्रकट किया गया।