ALL मध्यप्रदेश उत्तराखण्ड उत्तरप्रदेश राजस्थान छतीसगढ़ दिल्ली हरियाणा महाराष्ट्र तेलंगाना बिहार
बरसाती पानी की निकासी के लिए पक्के नाले का निर्माण करने की मांग
August 27, 2020 • Aankhen crime par • हरियाणा

एसडीएम को ज्ञापन सौंपा
बराड़ा, (जयबीर राणा थंबड़)। उपमंडल के
गांव डुलयाणी, सिरसगढ़ दोसड़का के निवासियों ने बरसाती पानी के निकासी को लेकर एसडीएम बराड़ा को ज्ञापन सौंपा।यह ज्ञापन नया तहसीलदार सुखदेव सिंह ने स्वीकार किया। अवैध कॉलोनियों द्वारा दीवार बनाए जाने से उत्पन्न हुई जलभराव की समस्या का समाधान निकालने के लिए उप मंडल अधिकारी को ज्ञापन सौंपा। गांव वासियों ने बताया कि सढोरा, धनोरा, डुलियाना, जमाल माजरा, सालेहपुर आदि का बरसाती पानी हमारे गांव में आकर जमा हो जाता है जिससे हर वर्ष लगभग सौ, डेढ़ सौ एकड़ फसल इस पानी की वजह से बर्बाद हो जाती है जिसका हमें कोई मुआवजा भी नहीं मिलता। उन्होंने कहा कि प्रशासन से इस बारे में हमारी कई बार बातचीत हो चुकी है लेकिन कोई उचित कार्रवाई न होने के कारण हमें हर बार इस समस्या से दो-चार होना पड़ता है। गांववासियों रामपाल, रामपाल सिंह, रंजीत सिंह, अर्जुन सिंह, आदि ने अपने निजी जमीन में से पानी की निकासी के लिए प्रशासन को 11-11 फुट जमीन दी हुई है जिस से कच्चा राह निकाल कर पानी की निकासी की जाती है जो कि कुछ समय तक हमारी जमीन को पानी की मार से बचा देता है लेकिन अब इस नाले के ऊपर अवैध कॉलोनियों ने लैंटर डाल कर दीवारें बना लेने के कारण पानी नाले से ओवरफ्लो होकर, हमारे खेतों में घरों में घुस जाता है जिसकी वजह से हमें काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है। उन्होंने मांग की है कि फसल बर्बादी का हमें कोई मुआवजा नहीं दिया जाता क्योंकि प्रशासन यह बात कहकर अपना पल्ला झाड़ लेता है कि यह फसल बाढ़ के कारण खराब नहीं हुई। गांववासियों गुरनाम सिंह, हरनाम सिंह, पालचंद,  रामस्वरूप, अमरजीत सिंह, जगजीत सिंह आदि लोगों ने मांग की है कि अवैध कॉलोनी की दीवारों को हटाकर पक्के नाले का निर्माण किया जाए ताकि पानी की निकासी संभव हो सके।