ALL मध्यप्रदेश उत्तराखण्ड उत्तरप्रदेश राजस्थान छतीसगढ़ दिल्ली हरियाणा महाराष्ट्र तेलंगाना बिहार
आरागाही कोविड-19 केयर सेंटर में दिया जा रहा था दुर्गंध युक्त भोजन, मरीजों ने किया खाने से इंकार, अधिकारियों के हस्तक्षेप के बाद रात 11 बजे दिया जा सका गर्म भोजन…
September 10, 2020 • Aankhen crime par • छतीसगढ़

आरागाही कोविड-19 केयर सेंटर में बीती रात दुर्गंध युक्त भोजन दिए जाने से नाराज कोरोना पॉजिटिव मरीजों के द्वारा भोजन को लाकर आंगन में रख दिया गया एवं भोजन नहीं करने पर अड़ गए जिसकी सूचना सीएमएचओ एवं एसडीएम को लगी तो रात में 11 बजे गर्म भोजन कोरेना पॉजिटिव मरीजों को दिया जा सका।

गौरतलब है कि जब से आरागाही में कोविड-19 केयर सेंटर बना है तब से ही कोरेना पॉजीटिव मरीजों के भर्ती होने के साथ ही लगातार मरीजों के द्वारा अत्यंत घटिया भोजन दिए जाने की शिकायत की जा रही है इसी बीच बीती रात जब मरीजों को भोजन दिया गया तो उसमें से दुर्गंध आ रही थी। जिसके बाद मरीज नाराज हो गए एवं भोजन को ला ला कर आंगन में रखने लगे। जिसकी सूचना देर रात ही सीएमएचओ एवं एसडीएम को दी गई जिसके बाद रात में 11 बजे गर्म भोजन कोरेना को दिया जा सका।

डीएवी के प्राचार्य ने बीती रात से भोजन का किया त्याग- डी ए वी भवरमाल  में पदस्थ प्रभाष चंद्र झा कोरेना पॉजीटिव पाए जाने के बाद कोविड-19 केयर सेंटर आरागाही में भेजा गया जहा भोजन बिल्कुल ठंडा मिलने से नाराज होकर श्री झा ने बुधवार की रात से भोजन का त्याग कर दिया है श्री झा ने बताया कि यहां साफ-सफाई की व्यवस्था भी ठीक नहीं है, परिसर को सैनिटाइज भी नहीं किया जा रहा है यदि प्रशासन व्यवस्था नहीं कर सकती है तो हमें होम आइसोलेशन में भेजा जाए ताकि हम खुद अपना ख्याल अच्छे से रख सकें।

भोजन रहता है बिल्कुल ठंडा- मरीजों ने आरोप लगाया कि भोजन बिल्कुल ठंडा दिया जाता है कोरेना पॉजीटिव मरीजों ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया कि भोजन देने में जमकर मनमानी की जा रही है शिकायत के बाद भी इसमें सुधार नहीं किया जा रहा है।

समय के चलते भी हो रही है समस्या- आरागाही कोविड-19 केयर सेंटर में दूरस्थ विकासखंड से भी कोरेना पॉजीटिव मरीज आ रहे हैं यहां पर मरीजों के प्रवेश देने का समय दोपहर 1:30 बजे से शाम 5:30 बजे तक है ऐसे में जब मरीज देर से पहुंचते हैं तो भोजन की समस्या आती है।

इस संबंध में विकासखड स्वास्थ्य अधिकारी डॉ कैलाश ने बताया कि दुर्गंध युक्त भोजन दिए जाने की सूचना कल रात में प्राप्त हुई थी। जिसके बाद रात में 11 बजे गरम भोजन कोरेना पॉजीटिव मरीजों को दिया जा सका।

इस संबंध में सीएमएचओ डॉ बसंत ने कहा कि पहले ₹90 एक मरीज पर 1 दिन का खाने का खर्च किया जा रहा था वही अब 5 दिन में नया टेंडर हो जाएगा जिसके बाद ₹180 प्रतिदिन एक व्यक्ति के खाने पर खर्च किया जाएगा। डॉक्टर एवं अन्य स्टाफ भी वही भोजन करेंगे।

कलेक्टर श्याम धावडे ने कहा कि आरागाही कोविड-19 केयर सेंटर के देखरेख की जिम्मेवारी एसडीएम रामानुजगंज को है तत्काल एसडीएम को निर्देशित करता हूं कि वहां की व्यवस्था को दुरुस्त करें।

रामानुजगंज से सौरव कुमार चौबे की रिपोर्ट